Call By Reference Function

in Hindi - Call By Reference Function



  • Function क्या है ?

    १. Program की length जब बड़ी हो जाए तो उसे छोटी करने का काम function करता है |
    २. अगर कोई code बार-बार program में आ जाए तो उसे एक ही function में define करके उसे जहाँ-जहाँ पर उसकी जरुरत हो वहाँ-वहाँ पर उसे call किया जाता है |
    ३.Function का Operation { } इसके अंदर होता है |

    Syntax :

    Function Definition :
    Return_type function_name (arguments list){
    function Body;
    }
    Function Calling :
    function_name (arguments list);:
    Function Declaration :
    return_type function_name (argument list);

    Formal Parameter :
    जो parameter function के definition में लिखे जाते है, उसे Formal Parameter कहते है |

    int main(){
    int a=2; b=10
    swap (a, b)
    }
    void swap (int x, int y){    //Formal Parameter
    ------------
    ------------
    }

    Actual Parameter :
    जो parameter function call में लिखे जाते है, उसे Actual Parameter कहते है |

    int main(){
    int a=2; b=10
    swap (a, b)    //Actual Parameter
    }
    void swap (int x, int y){
    ------------
    ------------
    }

    जब function Variable के address के जरिए call किया जाता है, उसे Call By Reference कहते है |
    यहाँ पर variable का address pass किया जाता है |


Source Code :

RUN#include <stdio.h>
void swap(int *x, int *y);
int main()
{
int a = 2, b = 10;
printf("Before Swapping  a = %d and b = %d\n", a, b);
swap(&a, &b);
}
void swap(int *x, int *y)
{
int temp;
temp = *x;
*x = *y;
*y = temp;
printf("After Swapping a = %d and b = %d", *x, *y);
}